Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel Meaning, Dua, Wazifa

Hasbunallahu Wa Ni'mal Wakeel Meaning in Hindi

अस्सलाम अलैकुम नाज़रीन आज की पोस्ट में Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel एक बहुत ही खुबसूरत दुआ है इसके बारे में ही बात करने वाले है।

जिसमे सबसे पहले बताया जायेगा की यह दुआ क्या है और इसको पढ़ने वाले के जीवन में क्या प्रभाव पड़ता है। इसी के साथ hasbunallahu wa ni mal wakeel दुआ कैसे याद करे वगैरह सीखने वाले है।

इस दुआ या आयात को याद करने के लिए ज्यादा समय नहीं चाहिए लेकिन इसके बारे में समझने के लिए ज्यादा समय की आवश्यकता है। इस लिए आप सभी लोगो से एक गुजारिश है की इस पोस्ट को पढ़ने के कम से कम 5 मिनट का समय जरुर निकाले।

Hasbunallahu Wa Nimal Wakeel क्या है?

Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel को एक दुआ भी कहा जाता है और आयात भी कहा जाता है। क्युकी यह आयात कुरान माजिद में सुरह आले इमरान में दिया गया है। यह सुरह इमरान के 173 आयत भी कहा जाता है।

Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel किसको पढ़ना चाहिए?

हस्बुनाल्लाहू व नि’मल वकील एक बहुत ही कामयाब दुआ है जिसे सभी मुस्लमान को पढ़ना चाहिए। लेकिन इसके अलावा कोई शख्स परेशानी में मुब्तला हो, कारोबार थप पड़ गया हो, ग़म की हालत हो, मुसीबत अजमईस के हालत हो, एग्जाम के वक़्त और इस आयत को दुनिया की कोई भी मुसीबत आ गया है वहां पर यह दुआ को पढ़ा जा सकता है।

Hasbunallahu Wa Ni Mal Wakeel in Arabic

حَسْبُنَا ٱللَّهُ وَنِعْمَ ٱلْوَكِيلُ

Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel Meaning in Hindi

हिंदी में दुआ:- हसबुनल-लाहु वा निअ-मल वकील 

तर्जुमा:- मेरे लिए अल्लाह काफी है और वही बेहतरीन कारसाज है।

Hasbunallahu Wa Ni Mal Wakeel Meaning in English

Translation:- Sufficient for us is Allah and He is the best disposer of affairs .

Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel किसने पढ़ी?

हदीस शरीफ मे आता है की हज़रत अब्दुल्लाह बिन अब्बास रजि अल्लाहो अंहो रिवायत करते है के, जब इब्राहीम अलैहिस सलाम को आग मे डाला गया तो इब्राहीम अलैहिस सलाम ने इस आयत को Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel पढ़ा जिससे वो आग बाग मे बदल गई और वो इतनी बड़ी मुसीबत से बच गए।

इसी तरह एक मर्तबा जंगे उहद में अबू सुफीयान ने मुसलमानों को डराने के लिए एक खबर उड़ाई की हम लोग बहुत बड़ी फौज लेकर मदीना पर हमला करने की तैयारी कर रहे है।

जब हमारे नबी मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहे वसल्लम और सहबाओ को ये खबर दी गई और उन काफिरों का इरादा ये है के एक हमले मे मुसलमानों को खतम कर देंगे, तो हमारे नबी और सहाबाओ ने Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel पढ़ी।

Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel ki Fazilat

  • मुश्किल वक़्त मे इस दुआ को पढ़ने से वो मुश्किल खतम हो जाएगी।
  • इस दुआ के पढ़ने से रिज्क से जुड़ी तमाम परेशानी दूर हो जाएगी।
  • अगर किसी भाई या बहन का रिश्ता नहीं हो रहा है या फिर बार-बार टूट जाता है तो वो भी इस दुआ को कसरत से पढे , इनशाल्लाह बहुत फायदा होगा।
  • आप किसी चीज से डरते है तो आप इस दुआ को ज्यादा से ज्यादा पढ़े इस दुआ से आपका डर खतम हो जाएगा।
  • कोई शख्स अक्सर बहुत ज्यादा बीमार रहते है या उसके घर मे और कोई बीमार रहता है तो इस दुआ को पढ़े।
  • इस दुआ को पढ़ने से दुनिया मे तो फायदा मिलेगा साथ ही अल्लाह तआला आखिरत मे भी इसका अज्र अता फमाएंगे।
  • अगर आपके घर पर या किसी बच्चो पर बुरी नज़र लग गया है तो इस आयत को पढ़ने से उसके घर में जिन, जिन्नात और जादू से छुटकारा मिलता है।

Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel Wazifa

नाज़रीन अभी तक आपने hasbunallah wani’mal wakeel meaning और फायदे के बारे में सीख लिए इसके अलावा इस दुआ को कैसे याद करे सीख लिया।

अब जानते है की इस दुआ के जरिये कितने वजीफा कर सकते है और फायदा उठा सकता है। लेकिन इस दुआ को ज्यादा फायदा उठाने के लिए नमाज़ की पाबंद करना होगा।

हर मुश्किल परेशानी और आजमाइश से बचने के लिए:- आज के दौर में कोई भी इंसान ऐसा नहीं है जिस पर कोई परेशानी, मुसीबत, गम, बीमारी या आजमाइश ना हो, और ये सब हमारे अमालों की बदौलत है अगर आप भी इन सब परेशानी मे घिरे हुए है तो आप इस ताकतवर दुआ के वजीफे से इनको दूर कर सकते है।

इस वजीफे को करने का तरीका ये है, ईशा की नमाज़ के बाद 11 मर्तबा दुरूद ऐ इब्राहीम पढ़े फिर ऊपर बताये दुआ को 450 मर्तबा पढ़े और फिर से 11 मर्तबा दुरूद पढ़े। इनशाल्लाह इस दुआ की बरकत से आप इन तमाम परेशानियों से अल्लाह की हिफाजत मे रहेंगे।

घर खरीदने के लिए:- हमारे बहुत से नाज़रीन ऐसे है जो अभी भी किराये के घर मे रहते है तो आप परेशान ना हो ये दुआ उनके लिए भी है जो अपना घर खरीदना चाहते है यानि इस दुआ के विर्द से आप बहुत जल्द अपना घर खरीद लेंगे।

इस वजीफे को करने का तरीका ये है की 3 या 11 मर्तबा दुरूद ऐ इब्राहीम पढ़े फिर ऊपर बताये गए दुआ को 450 मर्तबा पढ़े और फिर से 3 या 11 मर्तबा दुरूद पढ़े।

किसी काम को पूरा करने के लिए:- अगर आपने कोई काम शुरू किया है और आप उसमे फायदा या फिर खैर चाहते है, तो आप ऊपर वाला दुआ का वजीफा कर सकते है।

ये वजीफा करने का तरीका ये है के आप बा वुजु के साथ 11 मर्तबा दुरूद इब्राहीम या और कोई दुरूद पढ़े फिर इस दुआ को 111 मर्तबा पढ़े फिर 11 मर्तबा दुरूद पढ़े।

आप इस वजीफे को तब तक कर सकते है जब तक आपको कोई फायदा ना मिले और चाहे तो फायदे के बाद भी पढ़ सकते है।

आज क्या सीखा

नाज़रीन मुझे उम्मीद है की आप सभी दोस्तों को Hasbunallahu Wa Ni’mal Wakeel की दुआ बहुत पसंद आया होगा जिसमे बहुत कुछ सीखने को मिला होगा।

जैसा की किसी शख्स को दुनिया की कोई मुसीबत में मुब्तला है तो यह दुआ उसकी बहुत मदद करती है जिस तरह से हजरत इब्राहीम अलैहे सल्लम के लिए यह दुआ मदद किया था।

इसी तरह का इस्लामिक दुआ सीखने के लिए यह पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ व्हात्सप्प, इन्स्ताग्राम, फेसबुक पर शेयर करे और सवाब भी पाए।

इन्हें भी पढ़े:

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *