Bazar Jane ki Dua | Bazar me Dakhil Hone ki Dua

Bazar Jane ki Dua in Hindi, English with Tarjuma

क्या आपको 10 लाख नेकिया कमाना चाहते है तो Bazar Jane ki Dua पढ़ा करे और अगर आपको मालूम नहीं है की बाज़ार जाते वक़्त की दुआ क्या है तो बिलकुल सही जगह पर आए है।

क्युकी यहाँ पर Bazar Mein Dakhil Hone ki Dua in Hindi, English के साथ अरबी, उर्दू और इसके तर्जुमा भी बताया जाएगा जिसकी मदद से आप आसानी से इस दुआ को याद कर सकते है।

दोस्तों बार बार मिलाद उन नबी में तकरीर के माध्यम से सुनते है की बाज़ार शैतान का मस्जिद होता है यानि उसका अड्डा माना जाता है। यह जगह उन फ़ितनो का अड्डा होता है जहाँ पर गुनाह आम होता है जिससे बचने के लिए नबी सल्लल्लाहु अलैहे वसल्लम ने Bazar me Jane ki Dua बताया है जिसको पढ़कर गुनाहों से बच सकते है।

आप से गुजारिश है अगर Bazar ki Dua याद करने और सीखने की चाहत रखते है तो इस पोस्ट को शुरू से आखिर तक जरुर पढ़े।

Bazar Jane ki Dua

बाज़ार की दुआ के मुताल्लिक एक हदीस है जिसको आपको पढ़ना चाहिए जो कुछ यु है “उमर रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत किया की रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया जो शख्स किसी बाज़ार में दाखिल हो और ये कलीमात कहे तो उसके लिए 10 लाख नेकियाँ लिख दी जाती हैं और उसके 10 लाख गुनाह मिटा दिए जाते हैं।

इस्लाम में हर एक काम के लिए दुआ बताया गया है मसलन पानी पीने की दुआ, Doodh Peene ki Dua इसी तरह बाज़ार की दुआ होता है।

इस दुआ को पढ़ने का तरीका ये है की घर से मार्किट में कुछ भी खरीदने के लिए जाने लगे और जब बाज़ार में जाने लगे तो निचे दिया गया दुआ को पढ़ ले। इसके लिए वजू का होना जरुरी नहीं है क्युकी जुबान कभी भी नापाक नहीं होता वह हमेशा पाक ही होता है।

bazar jane ki dua in arabic

لَا إِلٰهَ إِلَّا اللّٰہُ وَحْدَهٗ لَا شَرِيكَ لَهٗ ، لَهُ الْمُلْكُ وَلَهُ الْحَمْدُ يُحْيِي وَيُمِيتُ وَهُوَ حَيٌّ لَا يَمُوتُ بِيَدِهِ الْخَيْرُ وَهُوَ عَلٰی كُلِّ شَيْءٍ قَدِيرٍ

bazar me dakhil hone ki dua

ला इला ह इल्लल्लाहू वहदहु ला शरीक लहू लहुल मुलकु व लहुल हम्दु युहयी व युमीतु व हु व ह्य्युल ला यमुतु बि यदि हिल खैरु व हु व अला कुल्ले शैईन कदीर।

bazar jane ki dua in english

la ilaha illallah wahdahu la sharika lahu, lahul mulku wa lahul hamdu yuhyi wa yumitu Wahuwa Hayyu-l Laa Yamootu Biyadihil Khair. Wahuwa Ala Kulli Shai-in Qadeer.

बाज़ार जाते वक़्त की दुआ तर्जुमा के साथ

अल्लाह के सिवा कोई माबूद नही, वो अकेला है उसका कोई शरीक नही, मुल्क उसी का है, और तमाम तारीफें उसी के लिए हैं, और वो हर चीज़ पर कादिर है।

bazar jate waqt ki dua in english translation

There is no deity except Allah Azzawajal he is unique, He has no partner, His is the kingship, and for him is praise, he brings to lie and he kills, He is alive(as such death will not come to him. All virtues are in his hand of power, He can do what ever he wants.

दोस्तों क्या आपको Bazar Jane ki Dua याद हो गया तो निचे कमेंट में “माशाल्लाह” लिखे और अगर याद करने में किसी भी तरह का परेशानी हो तो निचे कमेंट में लिखे।

मुझे याकिन है की जो इस पोस्ट को अच्छी तरह पढ़ेगा वह बाज़ार की दुआ बाज़ार में जाते वक़्त जरुर पढ़ेगा और इसी तरह का अच्छी अच्छी दुआ सीखना चाहते है तो इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया में शेयर करे।

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *